देवताओं की तरह पूज्य है देश पर मर-मिटने वाले शहीद :-प्रेम सिंह बाजोर

0
89
views

सैनिक कल्याण समिति के अध्यक्ष श्री प्रेमसिंह बाजोर ने कहा है कि शहीद देवताओं की तरह से पूज्य है अतः हमें हमारी भावी पीढ़ी को इनके बलिदान के पीछे की मंशा को बताते हुए इनके प्रति गौरव की अनुभूति करवानी चाहिए ताकि उन्हें इससे प्रेरणा मिल सके। श्री बौजोर ने मंगलवार को बांसवाड़ा जिले की एक दिवसीय यात्रा के दौरान ठीकरिया कस्बे के अमर शहीद हर्षित भदौरिया के निवास पर संबोधित करते हुए व्यक्त किए।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से नेक कार्य से पहले हम देवताओं के चरण स्पर्श करते हैं उसी तरह हमें शहीद के चरण स्पर्श करने चाहिए। उन्होंने कहा कि सीमा पर लड़ने वाले जवान अपने लिए नहीं अपितु देश के लिए जीते और देश के लिए मरते हैं। उनके त्याग और बलिदान के कारण आज हम सभी हमारे घरों में सुरक्षित जीवन जी रहे हैं।

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे के निर्देशानुसार वे राजस्थान के हरेक जिले में शहीद के परिवार के मान सम्मान एवं उनकी जिला स्तरीय समस्याओं के निराकरण के लिए पहुंच रहे हैं और उनके दौरे का यह 22 वां जिला है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने शहीदों की शहादत का मान रखते हुए शहीदों परिवारों को दी जाने वाली राशि 20 लाख से बढ़ाकर 25 लाख रुपये कर दी है। पूरे राज्य में शहीदों की 1100 मूर्तियां बन रही है

उन्होंने बताया कि शहीद हर्षित भदौरिया की शानदार प्रतिमा वे बनवाकर यहां भिजवा रहे हैं और इस प्रतिमा के पेडस्टल का खर्चा स्थानीय जनप्रतिनिधियों द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि राज्य में करीब 1100 शहीदों की प्रतिमाओं का निर्माण सैनिक कल्याण बोर्ड के स्तर पर करवा रहे हैं।

इस दौरान ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग के राज्यमंत्री श्री धनसिंह रावत ने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार शहीद हर्षित भदौरिया का स्मारक सभी की सहमति से बनाया जाना है। पूर्व में निर्धारित स्थानों के संबंध में विवाद और अनुपयुक्तता के कारण यह स्थापित नहीं हो पाई। अब जल्द से जल्द ग्रामीणों एवं ग्राम प्रशासन की सहमति से मा.वि. ठीकरिया के खेल मैदान के एक हिस्से में शहीद भदौरिया की प्रतिमा को स्थापित किया जाएगा। विद्यालय इसलिए भी उपयुक्त है क्योंकि शहीद की प्रतिमा के प्रतिदिन दर्शन से विद्यार्थियों को प्रेरणा मिलेगी।

इस मौके पर राज्यमंत्री श्री प्रेमसिंह बौजोर ने भी दो-तीन दिन के भीतर ही इस कार्य के लिए राज्य स्तर से स्वीकृति दिलाकर कार्य प्रारंभ करवाया जाने की बात कही। इस मौके पर राज्य सैनिक कल्याण समिति के अध्यक्ष एवं ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग के राज्यमंत्री बांसवाड़ा-डूंगरपुर लोकसभा क्षेत्र के सांसद श्री मानशंकर निनामा, घाटोल विधायक श्री नवनीतलाल निनामा, प्रधान श्री दूधालाल सहित कई जनप्रतिनिधियों ने शहीद की तस्वीर पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर शहीद के पिता श्री राजकुमार भदौरिया, उनकी माता एवं बहन जिज्ञा का शाल ओढ़ाकर सम्मान किया गया।

इस मौके पर बांसवाड़ा उपखण्ड अधिकारी डॉ. भंवरलाल ने शहीद भदौरिया की प्रतिमा स्थापित करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा किए गए प्रयासों तथा शहीद के परिजनों को दी गई सहायता के बारे में जानकारी प्रदान की।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here