बेटियो की शिक्षा के लिए हरियाणा सरकार करेगी नए विश्वविद्यालय का निर्माण।

0
132
views

हरियाणा में लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने और यह सुनिश्चित करने कि गुणवत्तापरक शिक्षा प्राप्त करने के लिए उन्हें दूर तक यात्रा न करनी पड़े, के लिए प्रतिबद्ध हरियाणा सरकार ने जिला यमुनानगर की तहसील छछरौली के गांव पनजेटो, मुकरामपुर, चनेता और मुंडखेरा की राजस्व संपदा में डीएवी महिला विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए भूमि उपयोग परिवर्तन (सीएलयू) की अनुमति देने का निर्णय लिया है।

यह विश्वविद्यालय 193.04 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से 56.79 एकड़ भूमि पर स्थापित किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि डीएवी प्रबंधन समिति द्वारा पहले सीएलयू प्रदान करने के लिए किए गए आग्रह को मार्च, 2013 में राज्य सरकार ने खारिज कर दिया था। एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने इस संबंध में एक प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। उन्होंने कहा कि यमुनानगर और जगाधरी की ट्विन सिटीज़ के निकट स्थित यह विश्वविद्यालय मुख्य रूप से इन दो शहरों में रहने वाली लगभग पांच लाख आबादी की जरूरतों को पूरा करेगा।

उन्होंने बताया कि आवेदक को रूपांतरण शुल्क के रूप में से 60 रुपये प्रति वर्ग मीटर की दर से 1.37 करोड़ रुपये से अधिक की राशि जमा करनी होगी और यह अंडरटेकिंग देनी होगी कि स्थल के नगरीय सीमा के भीतर आने पर बाह्यï विकास प्रभार (ईडीसी) का भुगतान करेगा। आवेदक को यह अंडरटेकिंग भी देनी होगी कि राष्टï्रीय राजमार्ग- 907 के साथ चौड़ी की जाने वाली प्रस्तावित सडक़ और 45 मीटर चौड़े ग्रीन बेल्ट में आने वाली जमीन पर कोई निर्माण नहीं किया जाएगा और निकट भविष्य में उसके अधिग्रहण पर भी कोई आपत्ति नहीं करेगा। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त आवेदक को यह अंडरटेकिंग भी देनी होगी कि स्थल के माध्यम से गुजरने वाली हाई टेंशन (एचटी) लाइनों के राइट ऑफ वे (आरओई) में कोई भी निर्माण नहीं किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here