हरियाणा सम्प्रेषण प्रणाली के सवर्धन में हुए 1450 करोड़ खर्च।

0
98
views

हरियाणा में सम्प्रेषण प्रणाली के संवर्धन के लिए अक्टूबर, 2014 से अब तक 1450 करोड़ रुपये की राशि खर्च की गई है। प्रदेश में बढ़ती लोड की मांग को पूरा करने तथा 24 घण्टे बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित के लिए एक मजबूत सम्प्रेषण और वितरण अवसंरचना सृजित की गई है।

बिजली विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री पी.के .दास ने आज यहां निदेशक मंडल की 184वीं बैठक के दौरान हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम के प्रदर्शन की सराहना करते हुए यह जानकारी दी। बैठक के दौरान बताया गया कि अक्टूबर 2014 से अब तक 27 नए सबस्टेशन बनाए गए तथा 198 बिजली ट्रांसफार्मर स्थापित किए जिससे वर्तमान प्रणाली में 7211 एमवीए क्षमता की वृद्घि हुई।

इसके अतिरिक्त, लगभग 1000 किलोमीटर लम्बी सम्प्रेषण लाइनों को भी सिस्टम में जोड़ा गया, जिसमें 13 मौजूदा 220 केवी सबस्टेशनों के संवर्धन के अलावा गुरुग्राम, फरीदाबाद और पलवल के एनसीआर क्षेत्र में 220 केवी क्षमता के छ: सबस्टेशनों का निर्माण शामिल है। इस दौरान यह भी बताया गया कि हरियाणा बिजली वितरण निगमों द्वारा 528 करोड़ रुपये की लागत से 33 केवी क्षमता के 242 सबस्टेशनों के संवर्धन सहित 114 नए सबस्टेशनों का निर्माण किया गया और 1300 किलोमीटर लम्बी 33 केवी लाइनें बिछाई गई, जिससे मौजूदा सिस्टम में 2684 एमवीए क्षमता की वृद्घि हुई। पहले चरण में पांच जिलों- पंचकूला, अंबाला, गुरुग्राम, फरीदाबाद और सिरसा में पहले से ही उपभोक्ताओं को 24 घण्टे बिजली आपूर्ति शुरू हो गई है।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here