महिला उत्पीड़न के मामलों का हाथों हाथ किया निस्तारण।

0
88
views

राष्ट्रीय महिला आयोग द्वारा शुक्रवार को यहां राजस्थान पुलिस अकादमी में जनसुनवाई के माध्यम से महिला उत्पीड़न, दहेज प्रताड़ना, घरेलू हिंसा से संबंधित प्रकरणों की सुनवाई की गई। राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य श्रीमती सुषमा साहू की अध्यक्षता में आयोजित इस जनसुनवाई में अनेक मामलों का हाथों-हाथ निस्तारण किया और अन्य मामलों में पुलिस को जांच के आदेश दिये गए।

श्रीमती साहू ने कहा कि पूरे समाज को महिलाओं के प्रति संवेदनशील होना होगा, तभी महिला अपराधों में कमी आ सकती है। उन्होंने कहा कि पुलिस को भी महिला उत्पीड़न से संबंधित मामलों में तत्काल कार्रवाई करनी चाहिये, ताकि पीड़ित महिला को तुरंत न्याय मिले। राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य ने कहा कि महिलाएं अपने साथ हुए अत्याचारों को सबके सामने लाने की हिम्मत दिखा रही हैं, जो कि समाज में बदलाव का संकेत है। उन्होंने बताया कि आयोग में शिकायतकर्ता महिला की निजता का पूरा ख्याल रखा जाता है, इसलिये उन्हें शिकायत करने में किसी भी प्रकार का संकोच नहीं करना चाहिये।

जनसुनवाई में प्रदेश के विभिन्न जिलों से आई महिलाओं ने अपनी परिवेदनाएं पैनल के सामने रखीं। पैनल द्वारा दोनों पक्षों और जांच अधिकारी की मौजूदगी में केस की सुनवाई की गई और पुलिस को मामले के त्वरित निस्तारण से संबंधित जरूरी दिशा-निर्देश दिये गए। पैनल में जनसुनवाई के लिए श्रीमती साहू के अलावा अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस, सिविल राइट्स श्री एम.एल. लाठर, राज्य महिला आयोग की सदस्य श्रीमती सुषमा कुमावत एवं राष्ट्रीय महिला आयोग की काउन्सलर श्रीमती नीलम चौधरी शामिल थीं।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here