हरियाणा में अपराध रोकने वाली “अभिज्ञात अपराध योजना” को मिली मंजूरी :-

0
120
views

हरियाणा सरकार ने अभिज्ञात अपराध योजना (आइडटिंफाइड क्राइम स्कीम) शुरू करने का निर्णय किया है जिसके तहत जघन्य एवं सनसनीखेज अपराधों की पहचान करने के लिए राज्य और जिला स्तरीय समितियों का गठन किया जाएगा और उचित उपाय किए जाएंगे ताकि ऐसे मामलों का प्राथमिकता के आधार पर शीघ्र निपटान किया जा सके।
एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने इस योजना को शुरू करने की मंजूरी दे दी है।
संबंधित उपायुक्त की अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय समितियां हर महीने के पहले मंगलवार को बैठक करेंगी तथा महीने के दौरान हुए जघन्य और सनसनीखेज अपराधों, यदि कोई है, की पहचान करेंगी और राज्य स्तरीय समिति को सिफारिशें भेजेंगी, जो ऐसे मामलों को अभिज्ञात अपराधों में शामिल करने बारे निर्णय लेगी।

इन अपराधों पर रहेगी मुख्यता नज़र :-
हरियाणा सरकार डकैती, हत्या, आतंकवादी गतिविधियों, बलात्कार, सामुहिक बलात्कार, छोटी लड़कियों के बलात्कार, अपहरण आदि जैसे जघन्य और सनसनीखेज अपराधों में सुधार करने के लिए कड़े प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि इस योजना के लिए सभी स्तरों पर बेहतरीन तरीके कार्य किया जायेगा।

ये होंगे शामिल :-
उपायुक्त की अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय समितियों के सदस्यों में संबंधित जिलों के पुलिस अधीक्षक या पुलिस आयुक्त, जिला अटॉर्नी, जेल अधीक्षक या उप-अधीक्षक शामिल होंगे। इसीप्रकार, अतिरिक्त मुख्य सचिव की अध्यक्षता में राज्य स्तरीय समिति के सदस्यों में पुलिस महानिदेशक (सीआईडी), निदेशक एफएसएल, जिला अटॉर्नी और विधि परामर्शी शामिल होंगे।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here